Breaking News

जानिए क्यों कहते हैं NSG कमांडो को भारत के सबसे शक्तिशाली कमांडो, इसके पीछे ये है बड़ी वजह

एक NSG कमांडो यूनिट जिसे देश की सर्वोच्च कमांडो इकाइयों में से एक माना जाता है, भारत में एक बहादुर टीम मानी जाती है। एनएसजी कमांडो हर हाल में दत्त का सामना करने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं, वह केवल आदेश मिलने में देरी करते हैं, चाहे कैसी भी स्थिति हो, वह बिना सोचे समझे कूद पड़ते हैं। आपने कभी नहीं सुना होगा कि एनएसजी कमांडो किसी भी मिशन में फेल हो गए हैं क्योंकि असफलता उनके शब्दकोश में नहीं है।

इस लेख में हम आपको NSG कमांडो से जुड़ी ऐसी रोचक बातें बताने जा रहे हैं, जिसे पढ़कर आप भी हैरान रह जाएंगे और आपको ऐसी जानकारी मिलेगी कि आपको भारतीय सुरक्षा एजेंसियों के बारे में पता होना चाहिए।

1. NSG कमांडो को ब्लैक कैट कमांडो भी कहा जाता है. NSG कमांडो को दो भागों में विभाजित किया गया है जिनमें से एक ग्रुप को स्पेशल एक्शन ग्रुप और दूसरे ग्रुप को स्पेशल रेंजर ग्रुप के नाम से जाना जाता है.

2. आपको जानकर हैरानी होगी NSG कमांडो का निशाना बेहद अचूक होता है इनकी निशाने से कोई नहीं बच सकता क्योंकि ट्रेनिंग के दौरान एनएसजी कमांडो को निशानेबाजी का अचूक अभ्यास कराया जाता है.

3. NSG कमांडो की ट्रेनिंग आम फोर्स की ट्रेनिंग से काफी कठिन होती है और यह ट्रेनिंग 90 दिनों तक चलती है. NSG कमांडो की ट्रेनिंग में हवा,जल, स्थल इत्यादि सभी टास्क में पास होने पर ही इच्छुक अभ्यर्थी NSG कमांडो बनता है.

4. ये Germany की GSG 9 की तर्ज पर बनाई गई थी जो कि दुनिया की सबसे बेहतरीन काउंटर टेररिस्ट फ़ोर्स है.

5. NSG की फुल फॉर्म नेशनल सिक्योरिटी गार्ड है और इस यूनिट का मूल मंत्र ‘सर्वत्र सर्वोत्तम सुरक्षा’ है.

6. क्या आप जानते है NSG कमांडोज को ‘नेवर से गिवअप’ भी कहते है.

7. आपकी जानकारी के लिए हर किसी को ब्लैक कैट कमांडो बनने का मौका नहीं मिलता है. इसके लिए जवान को आर्मी, पैरा मिलिट्री या पुलिस में होना जरूरी है और यही से NSG कमांडोज बनाने के लिए जवानो को चुना जाता है.

About appearnews

Check Also

टीबी सुपरस्टार श्वेता तिवारी 42 साल की उम्र में भी अपने लुक से नई हसीनाओं को कर रही फेल, तस्वीरें देखकर हो जाएगा भरोसा….

टीवी इंडस्ट्री की जानी मानी एक्ट्रेस श्वेता तिवारी आज के समय में किसी परिचय की …