Breaking News

मनीष गुप्ता मामला: वीडियो के वायरल हो जाने के बाद योगी सरकार की बड़ी कार्यवाही

उत्तर प्रदेश के कानपुर के प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है वहीं दूसरी ओर मनीष गुप्ता की पत्नी मीनाक्षी का गोरखपुर की पुलिस के ऊपर विश्वास नहीं है और उनका मानना है कि इस मामले की जांच कानपुर पुलिस के द्वारा की जाए! वहीं दूसरी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने इस पूरे मामले पर कड़ा रुख जताते हुए कहा है कि दो षी चाहे कोई भी हो उसको छोड़ा बिल्कुल नहीं जाएगा!

वही एडीजी ने लॉ एंड ऑर्डर के अधीन दो कमेटियां बनाने का भी आदेश दिया गया है जो कि इस पूरे मामले की जांच करने वाले हैं! वहीं इस बीच एक हैरान कर देने वाला वीडियो भी सामने आया है! जिसमें पुलिस के बड़े अधिकारी पी ड़िता को धम की भरे लहजे में मामले को दर्ज ना खाने की सलाह दे रहे हैं लेकिन ऐसे में पी ड़िता का कहना है कि वह इंसाफ लेकर ही रहेगी!

कोई मामला ना कराए दर्ज

दरअसल सोशल मीडिया पर इस समय जो भी वीडियो वायरल हो रहा है वह गोरखपुर का बताया जा रहा है! जिसमें डीएम विजय किरन आनंद और एसएसपी डॉ विपिन टाडा एक पुलिस चौकी में मनीष गुप्ता के परिवार वालों से बातचीत करते हुए दिखाई दे रहे हैं! जिसमें अधिकारी बार-बार क्या आप अपना केस वापस ले लीजिए नहीं तो पुलिस वालों का परिवार ब र्बाद हो जाएगा आप किसी भी तरीके से कोई भी मामला दर्ज ना कराएं!

नौकरी और पैसों का लालच

इतना ही नहीं बल्कि इस वीडियो के अंदर प्रशासन के अधिकारी मनीष गुप्ता की पत्नी मीनाक्षी को नौकरी दे रहे हैं साथ ही कहा है कि मुकदमा दायर होगा तो मामला बहुत लंबा चलने वाला है तो कोई न्याय नहीं मिलेगा, इससे अच्छा यह है कि आप इस मामले को खत्म करिए और नौकरी लीजिए! लेकिन ऐसे में मीनाक्षी का साफ कहना है कि उसे ना तो नौकरी ना ही कोई पैसा चाहिए, मुझे सिर्फ इंसाफ चाहिए!

6 पुलिस वाले बर्खास्त

वही आपको बता दें कि मनीष गुप्ता के मामले में गोरखपुर के थाना रामगढ़ ताल में पुलिस कर्मियों पर मामला दर्ज किया गया ऐसे में इंस्पेक्टर जगत नारायण सिंह समेत छह पुलिसवालों को सस्पेंड कर दिया गया है!

About appearnews

Check Also

प्रियंका चोपड़ा की एक गलती के कारण होना पढ़ा था शर्मिंदा, लोगों ने किया जमकर ट्रोल…

प्रियंका चोपड़ा को आज के समय में किसी की पहचान की जरूरत नहीं है उन्होंने …