Breaking News
PTI5_17_2018_000164B

बंगाल से असम तक जीत के लिए मोदी-शाह की जोड़ी पर दारोमदार, ‘यूपी फॉर्मूले’ पर चल रही भाजपा

बंगाल से लेकर असम तक भाजपा का पूरा दारोमदार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह की जोड़ी पर ही है। पश्चिम बंगाल में टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी के खिलाफ सियासी संज में भारतीय जनता पार्टी ने अपनी पूरी प्लानिंग कर ली है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह के नेतृत्व में अगले सप्ताह से भाजपा की ताबड़तोड़ रैलियां शुरू हो रही हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह पश्चिम बंगाल, असम और केरल के चुनाव वाले राज्यों में अगले सप्ताह से महीने के अंत तक बड़े पैमाने पर चुनाव प्रचार करेंगे। माना जा रहा है कि यूपी-कर्नाटक और बिहार के फॉर्मूले पर ही भाजपा चलेगी और अधिक सीटों को कवर करते हुए पीएम मोदी की ज्यादा से ज्यादा रैलियों को आयोजित करवाएगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पश्चिम बंगाल के पुरुलिया में 18 मार्च को, कोंताई में 20 मार्च को और बकुरा में 21 मार्च को चुनावी रैलियां करेंगे। वहीं, दूसरी ओर अमित शाह 14 और 15 मार्च को बंगाल और असम का दौरा करेंगे। इसके बाद अमित शाह 17 मार्च और 21 और 23 मार्च को असम में चुनावी रैलियां करेंगे। वहीं, बंगाल में वह 19, 26 और 27 मार्च को जनसभा को संबोधित करेंगे। इस बीच 24 और 25 मार्च को वह केरल की यात्रा पर जाएंगे, जहां वह चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे।

अमित शाह के बंगाल दौरे की सबसे अहम बात यह है कि अपनी यात्रा के दौरान शाह पश्चिम बंगाल के 122 पार्टी कार्यकर्ताओं के परिवार के सदस्यों से मिलेंगे, जो भाजपा अध्यक्ष के तौर पर उनके कार्यकाल के दौरान मारे गए थे।

सूत्रों के मुताबिक, बंगाल में मुख्यमंत्री के चेहरे के बिना भाजपा वोटों के लिए मुख्य रूप से प्रधानमंत्री, गृह मंत्री और पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा पर निर्भर है। सूत्रों का यह भी दावा है कि रैलियों में पीएम की मौजूदगी पार्टी के प्रदर्शन को बेहतर बनाने में मदद करती है। भाजपा नेताओं का तर्क है कि पिछले साल हुए बिहार विधानसभा चुनावों के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने 12 रैलियों को संबोधित किया, जिसमें उन्होंने 100 से अधिक विधानसभा क्षेत्रों को कवर किया, जिससे पार्टी को बड़ी मदद मिली।

About appearnews

Check Also

प्रियंका चोपड़ा की एक गलती के कारण होना पढ़ा था शर्मिंदा, लोगों ने किया जमकर ट्रोल…

प्रियंका चोपड़ा को आज के समय में किसी की पहचान की जरूरत नहीं है उन्होंने …