Breaking News

भारत के 8000 रेलवे स्टेशन में ये इकलौता स्टेशन है जिसका कोई नाम नहीं है,जाने वजह

भारतीय रेलवे एशिया का दूसरा सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है। इतना ही नहीं, एकमात्र सरकारी स्वामित्व के मामले में भारतीय रेलवे दुनिया का चौथा सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है। हमारे देश में 8000 से अधिक रेलवे स्टेशन हैं।

देशभर में कई ऐसे स्टेशन हैं जो काफी मशहूर हैं तो वहीं कई ऐसे स्टेशन भी हैं जो किसी न किसी वजह से हमेशा चर्चा का विषय रहे हैं. आज हम आपको ऐसे ही एक रेलवे स्टेशन के बारे में बताने जा रहे हैं। जिसकी अपनी कोई पहचान नहीं है। इस स्टेशन का कोई नाम नहीं है।

जी हां, आपने सही पढ़ा, एक ऐसा स्टेशन जिसका कोई नाम नहीं है। हम बात कर रहे हैं पश्चिम बंगाल के आद्रा रेलवे डिवीजन में पड़ने वाले अनाम रेलवे स्टेशन की। बांकुरा-मसग्राम रेल लाइन पर स्थित यह स्टेशन दो गांवों रैना और रैनागढ़ के बीच पड़ता है।

इस स्टेशन को अपने शुरुआती दिनों में रैनागढ़ के नाम से जाना जाता था। लेकिन रैना गांव के लोगों ने इसका विरोध किया और वे इस स्टेशन का नाम अपने गांव के नाम पर रखने की मांग करने लगे. इसी बात को लेकर दोनों गांव के लोगों के बीच झगड़ा शुरू हो गया। मामला रेलवे बोर्ड तक पहुंचा और विवाद को सुलझाने के लिए रेलवे ने स्टेशन के साइन बोर्ड से स्टेशन का नाम हटा दिया.

जिससे बाहर से आने वाले यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। नाम न होने के कारण यात्रियों को दूसरे लोगों से इसके बारे में पूछना पड़ता है। स्टेशन का अपना कोई नाम नहीं होने के कारण यात्रियों को काफी परेशानी होती है। हालांकि रेलवे अभी भी अपने पुराने नाम रैनागढ़ के तहत स्टेशन के लिए टिकट जारी करता है।

About appearnews

Check Also

भोजपुरी इंडस्ट्री की मोनालिसा का देसी लुक देख लोग हुए दीवाने, लहंगा चोली में किया सोशल मीडिया का पारा हाई,देखें तस्वीरें।

भोजपुरी इंडस्ट्री की ग्लैमरस अभिनेत्री की लिस्ट में नाम मोनालिसा का भी आता है जिन्होंने …